सुशांत सिंह राजपूत का जीवनी | Immortal & Great actor Sushant Singh Rajput Biography in hindi

सुशांत सिंह राजपूत का जीवन परिचय : Sushant Singh Rajput Biography in hindi

सच मानो तो मुझे आज भी यकीन नहीं होता कि सुशांत सिंह राजपूत आज हमारे बीच मौजूद नहीं है, कोई सोच भी नहीं सकता था कि सुशांत सिंह राजपूत कुछ ऐसा करने वाला है और कुछ लेगा कि दुनिया को कुछ समय के लिए शोक में डूबा देगा। न जाने ऐसा क्या सुशांत सिंह को कि सुबह तबीयत भी ठीक था मूड भी ठीक ठाक था लेकिन बीते कुछ घंटों में ऐसा क्या हुआ कि जिसके कारण उन्हे दुनिया को ही छोड़ जाना ही सबसे बेहतर समझा। आखिर ऐसा हुआ क्या था कि अचानक से सुशांत सिंह ने खुदकुशी कर ली।

एक बार भी अपने पिताजी और बहन के बारे में नहीं सोचा कि उसके जाने के बाद उनके पिताजी कि देखभाल कौन करेगा एक बार अकेले में ही बैठकर उनके बारे में शायद सोचते तो शायद ये कदम उठाना न पड़ता। आज इनके बारे में जानेंगे और खुदखुशी के के दिन क्या क्या हुआ था उसके बारे में भी विस्तार से जानेंगे।

सुशांत सिंह राजपूत कि फोटो

सुशांत सिंह राजपूत का जन्म पटना में हुआ था, इनकी एक बहन राज्य स्तरीय क्रिकेटर हैं। सुशांत सिंह अपनी स्कूली शिक्षा पटना के सेंट करेन्स हाई स्कूल तथा दिल्ली के कुलाची हंसराज मॉडल स्कूल से प्राप्त की। सुशांत सिंह कि माँ के मृत्यु के बाद पूरा परिवार टूट चुका था। उसके बाद बाकी परिवार पटना से दिल्ली आकर बस गए, इनकी माँ कि मृत्यु के बाद पूरा परिवार एकदम टूट स गया था। ऐक्टिंग में अपना करियर बनाने के लिए सुशांत सिंह राजपूत ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई के चार वर्ष के कोर्स में से सिर्फ तीन वर्ष ही पढ़ाई कर कोर्स बीच में ही छोड़ दिया।

सुशांत सिंह राजपूत का जन्म, परिवार व शिक्षा

Sushant Singh Real Nameसुशांत सिंह राजपूत
Sushant Singh Birthday 21 जनवरी सन्न 1986
Sushant Singh Birthplace बिहार के पूर्णिया के मलदिहा गाँव
Sushant Singh Rajput age33 साल
Sushant Singh Rajput wife name शादी ही नहीं कि थी
Sushant Singh father’s nameकृष्णा कुमार सिंह
Sushant Singh mother’s nameस्व. उषा सिंह
Sushant Singh father’s Occupation रिटाइर सरकारी कर्मचारी
Sushant Singh brotherएक भी भाई नहीं है
Sushant Singh sister3
सुशांत सिंह राजपूत कि फोटो

सुशांत सिंह राजपूत का जन्म 21 जनवरी सन्न 1986 को पटना में हुआ था इनके पिताजी का नाम कृष्णा कुमार सिंह और माता जी का नाम उषा सिंह है। इनकी बहनों में से एक मितु सिंह राज्य स्तरीय क्रिकेटर हैं, इनकी माँ का निधन सुशांत सिंह के निधन से 17 साल पहले ही चुकी थी। सुशांत सिंह कि माता के निधन के बाद से पूरा परिवार टूट चुका था और बाकी परिवार पटना से आकर दिल्ली बस गए। सुशांत सिंह राजपूत ने अपनी स्कूली शिक्षा पटना के सेंट करेन्स हाई स्कूल तथा दिल्ली के कुलाची हंसराज मॉडल स्कूल से की।

सुशांत सिंह राजपूत के पिता एक सरकारी कर्मचारी थे और कब के रिटाइर हो चुके थे, इनके एक जीजा है जो डीआईजी है और उस वक्त शायद हरियाणा में थे। सुशांत सिंह कि चार बहन है जिसमे सुशांत सिंह राजपूत एकलौते भाई थे और सबसे छोटे भी थे, एक बहन स्टेट लेवल क्रिकेट भी खेल चुकी है। एक बहन अमेरिका में रहती है और बाकी दो बहन दिल्ली ही रहती है। वैसे तो पूरी फैमिली बिहार के पूर्णिया के मलदिहा गाँव से तालुक रखते हैं लेकिन 2000 में दिल्ली में आकर रहने लगे थे। इनकी माँ का निधन साल 2002 में ही हो गई थी जिससे उस समय इनको बड़ा झटका लगा तब ये 12 वीं कक्षा में पढ़ते थे।

साल 2003 में सुशांत सिंह राजपूत ने दिल्ली प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय की प्रवेश परीक्षा में साँतवा स्थान प्राप्त किया था और अभियान्त्रिकी स्नातक (engineering Graduation) की डिग्री प्राप्त करने के लिए उन्होंने इसमें दाखिला लिया। सुशांत सिंह भौतिकी के राष्ट्रीय ओलिंपियाड के विजेता भी रह चुके हैं, उन्होंने भारत के कई विश्वविद्यालय से कुल 11 इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाएं पास की। पढ़ाई के दरमियान ही सुशांत सिंह थियेटर अभिनय करने लगे थे और डांस भी सीखने लगे थे जिसकी वजह से पढ़ाई में मन कम लगने लगा और ध्यान हटता गया।

और एक दिन ऐसा आया कि सुशांत सिंह ने पढ़ाई पूरी तरह से छोड़ दी, और पूरी से अभिनय में घुस गए।

अभिनय में अपना करियर बनाने के लिए उन्होंने इंजीनियरिंग की पढ़ाई के चार वर्ष के कोर्स में से सिर्फ तीन वर्ष ही पूरे करके बीच में ही छोड़ दी। विश्वविद्यालय में छात्र रहते हुए उन्होंने श्यामक दावर की डांस क्लास में जॉइन किया था। डांस क्लास में उनके कुछ साथी अभिनय में रुचि रखते थे तथा वे बैरी जॉन की नाटक की अभिनय में शामिल होते थे, यहीं से सुशांत सिंह राजपूत के मन में अभिनय में करियर बनाने का विचार सर्वप्रथम आया। जबकि सुशांत सिंह राजपूत शुरू से ही पढ़ने में बहुत तेज थे सुशांत सिंह खगोल शास्त्र तथा खगोलभौतिकी में बहुत रुचि थी।

उन्होंने कुछ प्रौद्योगिकी एवं कई कंपनियों की भी स्थापना की जिसके वे सह-निदेशक भी बनाए गए थे।

डांस क्लास जॉइन करने के बाद इसी तरह स्ट्रगल करते रहे और लम्बे समय के बाद एक एकता कपूर एक सीरियल को प्रडूस करने जा रही थी। उसकी मुस्कराहट देखकर एकता कपूर ने सीरियल पवित्र रिश्ता में में लीड रोल दिया और करीब 6 साल ये सीरियल चली। इस सीरियल में उसके साथ अंकिता लोखंडे भी काम कर रही थी, इस 6 साल में दोनों बहुत करीब भी आ चुके थे अंकित लोखंडे और सुशांत दोनों एक दूसरे से बहुत प्यार भी करने लगे थे। दोनों कुछ दिन में शादी भी करने वाले थे लेकिन न जाने ऐसा क्या होता है कि शादी से पहले ही दोनों का साल 2016 में ब्रेकप हो जाता है और अलग हो जाते हैं।

दोनों के ब्रेकप के कुछ समय बाद ही सुशांत सिंह राजपूत कि जिन्दगी में दूसरी लड़की आती है, जिसका नाम रिया चक्रवर्ती होता है। 2020 में ही अंकिता लोखंडे एक business man से सगाई भी कर लेते हैं, इस ब्रेकप को लेकर कभी भी दोनों ने एक दुसरे के बारे में कुछ नहीं बोलते थे। सुशांत सिंह मूडी मिजाज के थे मतलब की इनका स्वाभाव बहुत जल्द बदल जाता था, ब्रेकअप का एक बड़ा कारण इसका मूडी मिजाज भी बताया जाता है।

सुशांत सिंह राजपूत खुदखुशी के दिन क्या हुआ था? : Sushant Singh Rajput death date

सुशांत सिंह राजपूत डेथ स्टोरी

सुशांत सिंह को 14 जून 2020 को अपने बांद्रा वाले अपार्टमेंट के अपने रूम के पंखे से लटकता हुआ पाया गया। दिन रविवार का था वो अपने मुंबई के बांद्रा के अपार्टमेंट में रहते थे, उस वक्त उस अपार्टमेंट में उसके करीबी दोस्त और कुछ नौकर-चाकर रहते थे। जिस अपार्टमेंट में सुशांत सिंह राजपूत रहते थे उसका महीने का किराया सिर्फ 4.5 लाख थी, साल 2019 में ही ये घर लिया था इनको ये घर बहुत पसंद भी था और खुश भी थे।

लॉकडाउन के समय उसकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती सुशांत सिंह के आत्महत्या से कुछ दिन पहले तक रिया चक्रवर्ती उसके घर पर ही सुशांत सिंह के साथ ही रह रही थी। लेकिन एक दिन अचानक रिया चक्रवर्ती किसी विवाद को लेकर सुशांत सिंह के घर से चली जाती है, खबर ये भी थी की दोनों उसी साल शादी भी करने वाले थे। न जाने कौन सी बात को लेकर विवाद हुआ कि सुशांत ने बताया तक नहीं ऐसा दोनों के बीच क्या हुआ कि ये लोग शादी भी नहीं कर सके आखिर इन दोनों के बीच किस बात को लेकर विवाद हुआ था बता पाना मुश्किल है।

सुशांत सिंह राजपूत कि फोटो
आत्महत्या करने से पहले 3 जून 2020 को Instagram पर किया गया पोस्ट जो कुछ दर्शाती है

समय करीब दोपहर डेढ़ – दो बज रहे होंगे दिन रविवार 14 जून 2020 था को एक खबर आती है कि जिसको सुनकर किसी को विश्वाश ही नहीं होता है मुझे खुद नहीं हुआ था और सबको हैरानी भी होती है और सबको चौंका भी देती है। किसी को तो कुछ समय के लिए तो विश्वास ही नहीं हुआ, कोई shocked हो गया ये कैसे हो सकता है कोई मजाक कर रहा होगा। सबने इंटरनेट पर सर्च करना शुरू कर दिया मैंने खुद किया था, कुछ लोग यूट्यूब पर खोजने लगे सुशांत सिंह राजपूत के बारे में आखिर सच में क्या हुआ?

रविवार 14 जून 2020 को अपने 3 बेडरूम के डुप्लेक्स अपार्टमेंट जो कि बांद्रा में है 4 लोगो के साथ रहा करते थे, जिसमे 2 रसोईय थे जो खाना बनाने का काम करते थे। एक जो घर का काम करते थे और आर्ट डिज़ाइनर था जो सुशांत सिंह का दोस्त ही था, ये लोग उस दिन वहीं मौजूद थे और उनकी एक सिस्टर मुंबई में ही रहती है। जब लॉक डाउन लगा मार्च 2020 तब से सुशांत सिंह राजपूत वहीं रहता था, पूरा वक्त वहीं गुजारते थे बहुत कम ही घर से बाहर निकलते थे। और ज्यादा समय अकेले ही रहते थे बेडरूम में वो अकेले ही सोते थे उसका दोस्त अलग रूम में सोता था।

सुबह का रूटीन इस प्रकार था –

सुशांत सिंह राजपूत हर दिन कि तरह सुबह उठते थे नाश्ता करते थे फिर अपने बेडरूम में चले जाते थे, टीवी देखते थे फोन पर थोड़ा बहुत दोस्तों से बाते करते थे। इसी तरह पूरा दिन बीत जाता था, रविवार को सुबह करीब 6 बजे उठे थे और करीब 9 बजे अपनी बहन को फोन किया जो मुम्बई में ही रहती थी और बहन से बात भी हुई और उसके बाद एक दोस्त को फोन किया जो फिल्म इंडस्ट्री में ही हैं। उससे कुछ वक्त तक बात की समय करीब सुबह 10 :30 बज रहा था, उसके बाद का कोई काल रिकार्ड नहीं है और उसके बाद बेडरूम में गए और अंदर से दरवाजा बंद कर लिया।

थोड़ी देर बाद करीब 11 – 11 : 30 बजे उनका कुक उसके दरवाजे के पास जाकर आवाज देता है पूछता है कि आज के दोपहर के खाने में क्या बनाना है? लेकिन अंदर से किसी भी तरह कि भी जवाब नहीं आता है कोई response नहीं मिलता है, उसके बाद ये बात दूसरे कूक को बताता है तो दूसरा भी जाकर आवाज देता है लेकिन फिर से कोई जवाब मिलता है। उसके बाद वो कूक उसके दोस्त को ये सब बाते बताता है, फिर उसके बाद उसका दोस्त सुशांत सिंह राजपूत को फोन करता है। रिंग होती है लेकिन सुशांत सिंह फोन नहीं उठाते है, फिर कुछ देर बाद फिर से फोन करते हैं लेकिन फोन उठाते ही नहीं है।

फोन न उठाने पर जोर जोर से दरवाजा को खटखटाते हैं लेकिन अंदर से फिर से किसी भी तरह का response नहीं मिलता है, धीरे धीरे करके ऐसा करते करते बहुत समय बीत चुका था। पहले ऐसा कभी नहीं हुआ कि इतनी आवाज दी और उसका जवाब नहीं मिला हो या फिर इतना फोन किया हो तो उसका जवाब नहीं मिल हो। उसके बाद उसके दोस्त सुशांत सिंह कि बहन को फोन लगाकर ये सब चीजों के बारे में बताते हैं, उसके बाद उसकी बहन भी वहाँ से कई दफा कॉल करते हैं लेकिन उसका भी कोई जवाब नहीं मिलता है।

तब सबको बहुत चिंता होने लगी कि आखिर सुशांत सिंह राजपूत फोन क्यों नहीं उठा रहे किसी का जवाब क्यों नहीं दे रहे हैं? कुछ अनहोनी होने कि घटना लगी और तुरंत उसकी बहन सीधे भाई के घर के लिए निकलते हैं, बहन के घर आने के बाद फिर से सब कोई दरवाजे को खटखटाते है लेकिन फिर वही अंदर से कोई जवाब नहीं मिला। उसके बाद उसका खाना बनाने वाला बाहर एक डुप्लीकेट चाबी बनाने वाले को ले लेकर आता है और उसके बाद उस रूम कि duplicate चाबी बनाई जाती है उसके बाद सुशांत सिंह राजपूत का दरवाजा खोला जाता है।

सुशांत सिंह राजपूत का रूम का दरवाजा duplicate चाबी के द्वारा खोलने के बाद जो पहला मंजर दिखता है वो सबको हैरान कर देती है चौका देती है। किसी को अपनी आँखों पर विश्वाश ही नहीं हो रहा था, किसी का भी दिल दहला सकता था, सबने देखा कि सुशांत सिंह राजपूत अपने रूम के सीलिंग फैन के सहारे बेडशीट को फंदे के रूप में इस्तेमाल कर उसके सहारे फांसी लगा ली थी। जब दरवाजा खोला गया उस समय 12 साढ़े 12 बज रहे होंगे वह बेडशीट हरे रंग कि थी, देखने से प्रतीत हो रहा था कि उसके बॉडी में कोई हरकत नहीं थी फिर भी उसके शरीर का बेड से बस कुछ दूरी का ही फासला था।

उसकी स्थिति देखकर लग रहा था करीब एक से दो घंटा हो चुका था उसके फांसी लगाए, उसके बाद 108 नंबर पर फोन करते हैं, ये सारी घटना डॉक्टर और पुलिस को बताई जाती है। कॉल करने के कुछ समय के पश्चात वहाँ एक साथ पुलिस और डॉक्टर पहुंचते हैं, उस दरमियान उसकी बहन और बाकी लोगों कि सहायता से सुशांत सिंह के शरीर को फंदे से नीचे किसी तरह उतारा जाता है। उसकी मौत हो चुकी होती है उसके बाद पुलिस सभी ऐंगल से वहाँ कि तहकीकात करती है और सबूत के तौर पर वहाँ कि एक एक चीज कि तस्वीर लेनी शुरू कर देती है, और उसकी सारी चीजों को जब्त करनी शुरू करती है।

उसके बाद सुशांत सिंह के मृत शरीर को post-mortem के लिए भेज दिया जाता है उसके बाद पुलिस वहां रहा रहे लोगो से पूछताछ शुरू करती है। post-mortem रिपोर्ट जब आती है तो उसमे सुशांत सिंह राजपूत का मृत्यु दम घुटने से बताई गई है, उसके गले पर फंदे से निशान भी बन गए थे और उसी से मौत हुई है। दरवाजा तो अंदर से बंद था पुलिस को छानबीन में ज्यादा कुछ नहीं मिलता है बहुत खोजबिन करने के बावजूद भी वहाँ से किसी भी तरह का सुसाइड नोट नहीं मिला। अगर चाहते तो सुशांत सिंह सुसाइड नोट लिख सकते थे लेकिन क्या वजह रही कि उसने सुसाइड नोट नहीं लिखा आखिर उसने फांसी क्यों लगाई होगी।

आखिर लोगों को भी पता होना चाहिए कि सुशांत सिंह राजपूत जो इतने बड़े स्टार थे, उनके पास किस चीज कि कमी थी आखिर क्या वजह रही कि सब कुछ होने के बावजूद सुशांत सिंह राजपूत ने मरने कि ठान ली थी। और किसी को बताने तक हिम्मत नहीं हुई कि आखिर वो सब को छोड़कर इतने सारे उनके जो फैन है उसको कौन जवाब देगा कि आखिर वो इतनी जल्दी दुनिया छोड़ने का फैसला खुद से कैसे ले लिया। उन सबको जवाब आखिर कौन देगा किसी भी तरह से मरने से पहले न पत्र लिखा न विडिओ के माध्यम से बताने कि कोशिश कि तो लोग तो परेशान रह जाएंगे, आखिर इसका जवाब कौन देगा?

सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड करने से करीब 6 दिन पहले ही सुशांत सिंह राजपूत कि एक दिशा सलियन (दिव्या) नाम कि X PR मेनेजर हुआ करती थी। उसने 14 मंजिला से कूदकर सुसाइड कर ली थी, PR एक तरह कंपनी है जो अलग अलग एक्टरो के लिए मेनेजर provide करने का काम करती है। उसी कंपनी के अंदर दिव्या भी काम करती थी और वही कंपनी दिव्या को सुशांत सिंह राजपूत के मैनेजर के रूप में appoint किया था। लेकिन कुछ दिन बाद ही PR कम्पनी दिव्या को PR कंपनी से बाहर निकाल देती है और उसके बाद सुशांत सिंह के मेनेजर पद से भी हटना पड़ जाता है।

सुशांत सिंह राजपूत के मैनेजर पद से हटने के बाद उसने सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड से 6 दिन पूर्व ही 8 जून 2020 को अपनी लीला समाप्त कर ली उसने 14 मंजिला से कूदकर जान दे दी। और उसके 6 दिन बाद सुशांत सिंह राजपूत ने भी अपनी लीला समाप्त कर ली दोनों के बीच का आत्महत्या का इतने कम दिन का अंतराल का होना कुछ न कुछ जरूर कहीं इशारा करती है। लेकिन जब जांच हुई तो पुलिस ने जाँच में दोनों का रिश्ता सिर्फ एक प्रोफेसनल तौर पर ही पाया, वैसा कुछ अभी तक पता नहीं चला सुशांत सिंह कि आखरी हिट फिल्म छिछोरे जो करीब 150 करोड़ कमाई की थी।

इसके आलावा सुशांत सिंह के पास उस वक्त कई फिल्मे थी और 5 से 8 करोड़ रुपये एक फिल्म करने के लेते थे, लेकिन उस कोरोना इतना फैला हुआ था जिसके वजह से कहीं भी शूटिंग नहीं चल रही थी। सुशांत सिंह टॉप 15 के अंदर आने वाले एक्टर मे से एक थे, एक वेब सीरीज करने को लेकर भी बात चल रही थी और उसके लिए सुशांत सिंह ने करीब 14 करोड़ कि मांग कि थी। प्रडूसर मान नहीं रहे थे लेकिन किसी तरह प्रडूसर मान गए और 14 करोड़ देने पर राजी हो गए थे, बस कुछ दिन में वेब सीरीज कि शूटिंग शुरू होने वाली थी, लेकिन उससे पहले ही सुशांत सिंह ने आत्महत्या कर ली।

सुशांत सिंह को कुछ फिल्म production हाउस ने ब्लैक लिस्टेड रखा था

बात करे फिल्म इंडस्ट्री कि तो बहुत सालों से बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में nepotism का खेल कई वर्षों से चला आ रहा है, इसका मतलब ये होता है कि फिल्म इंडस्ट्री में सिर्फ बड़े अभिनेता और अभिनेत्रियों के बाल बच्चे ही फिल्म में काम कर सकते हैं छोटे मोटे लोगों को ज्यादा महत्व नहीं दिया जाता है। कुछ लोग ही है फिल्म इंडस्ट्री में जो बहुत ही कड़ी मेहनत से अपनी एक अलग पहचान बना पाई है। नहीं तो वैसे बहुत से आज कि तारीख में ऐसे ऐसे हीरो और हिरोइन है जिसने फिल्म इंडस्ट्री के बड़े बड़े अभिनेता और प्रडूसर कि बात नहीं मानी वो फिल्म इंडस्ट्री से बाहर कि जिंदगी जी रहे हैं।

पूरी फिल्म इंडस्ट्री एक grouping पर काम करती है यानि कि कोई भी फिल्म बनाने से पहले सभी Production हाउस से बात विमर्श किया जाता है कि कौन से फिल्म किसे लेना चाहिए और किसे नहीं लेना चाहिए। यश राज फिल्म Production, SRK, SKP किसी एक ने सुशांत सिंह राजपूत को एक प्रोजेक्ट दिया था, लेकिन सुशांत सिंह ने उसे करने मना कर दिया। अगर किसी ने किसी प्रोडक्शन हाउस का प्रोजेक्ट रिजेक्ट कर देता है तो उसका बदला बाद में किसी न किसी रूप वो ले लेता है।

और ऐसा ही होता जिसको सुशांत सिंह ने जिस प्रोडक्शन हाउस का प्रोजेक्ट करने से मना किया था उसने अपने सारे जान पहचान Production हाउस वाले को कह देते है की अब सुशांत सिंह को काम नहीं देना है और ऐसे कुछ ऐसे कई फिल्म थे जिसमे सुशांत सिंह राजपूत को लिया जा चुका था सबकुछ डील हो चुका था, लेकिन किसी के फोन कर देने से जो फिल्म सुशांत सिंह राजपूत मिला था उस फिल्म से उसे बाहर निकाल दिया जाता है उसके पास कई फिल्मे थी लेकिन धीरे धीरे सब फिल्मो से निकाले गए ये मामला और कई अभिनेता के साथ हुआ है लेकिन वो डेट रहे।

सुशांत के मनेजर दिशा सलियन ने खुदखुशी क्यों कि उससे इनपर क्या असर हुआ?

सुशांत सिंह की पूर्व मैनेजर दिशा सलियन जिसने 8 जून 2020 को 14 मंजिला से कूदकर सुसाइड कर लिया था, न्यूज के मुताबिक दिशा को सुशांत सिंह की एक्स मैनेजर बताया गया, जिसके बाद सुशांत शायद डर गए थे, उन्होंने रिया चक्रवर्ती को फोन किया लेकिन रिया ने उन्हें ब्लॉक कर दिया था, इसके बाद अपनी बहन को घर बुलाकर ये सारी बाते बताई, उन्होंने अपनी बहन से अपना डर भी शेयर किया था, जिसके बाद उनकी बहन तीन-चार दिन उनके साथ भी रही भी थीं। ले सुशांत को समझा-बुझाकर 3-4 दिन बाद अपने घर लौट गई उस वक्त तक सुशांत सिंह ठीक ठाक थे।

सुशांत सिंह राजपूत सभी फिल्मे

फिल्मडायरेक्टर Producer
काय पो छे (2013)अभिषेक कपूरUTV Motion Pictures
शुद्ध देसी रोमांस (2013)मनीष शर्मायश राज फिल्म्स
पीके (2014)राजकुमार हिरानी UTV Motion Pictures
डिटेक्टिव ब्योमकेश बक्शी (2015)दिबाकर बनर्जीयश राज फिल्म्स
एम.एस. धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी (2016)नीरज पांडेस्टार स्टूडियो
राब्ता (2017)दिनेश विजन AA Films
वेलकम टू न्यू यॉर्क (2018)चकरी टोलेटी जैकी भगनानी, वाशु भगनानी, दीपशिखा देशमुख,विराफ़ सरकारी sabbas Joesph
केदारनाथ (2018)अभिषेक कपूरRonnie Screwvala, Prgya kapur, Abhishek Kapur
सोनचिड़िया (2019)अभिषेक चौबेRonnie Screwvala
छिछोरे (2019)नीतेश तिवारी स्टार स्टूडियो
ड्राइव (2019)तरुण मंसूखानी Dharma Production
दिल बेचारा (2020)मुकेश छाबरा Fox Star Studios
सुशांत सिंह राजपूत का असली कातिल कौन है?

डिप्रेशन (अवसाद)

सुशांत सिंह राजपूत को कौन मारा है?

डिप्रेशन ने

सुशांत सिंह राजपूत की मौत कैसे हो गई?

फांसी लगाने व दम घुटने से

सुशांत सिंह राजपूत का घर कहाँ है?

बिहार के पूर्णिया के मलदिहा गाँव से तालुक रखते हैं।

सुशांत सिंह राजपूत की पहली फिल्म कौन सी है?

काय पो छे

सुशांत सिंह राजपूत के कितने बच्चे है?

शादी ही नहीं कि

4 1 vote
Article Rating
4 1 vote
Article Rating

Leave a Reply

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x
%d bloggers like this: