Jharia Raaj+2 High School Jharia Bastacola Dhanbad | झरिया राज+2 उच्च विधालय झरिया धनबाद

Jharia Raaj+2 High School Jharia : झरिया राज हाई स्कूल बस्ताकोला धनबाद

Jharia Raaj+2 High School Jharia : झरिया राज हाई स्कूल बस्ताकोला धनबाद

झरिया राज हाई स्कूल धनबाद जिले में भगतडीह झरिया के समीप में स्थित था, लेकिन अब ये धनबाद जिले के बस्ताकोला में व्यवस्थित कर दिया गया है। विस्थापित होने का मुख्य कारण  सिर्फ एक ही था  ये कि जिस जगह पे ये स्कूल स्थातापित था  उसके पीछे जमीन में आग लगी हुई थी, और ये कई सालो से लगी हुई थी और आज भी लगी हुई है। जिसके कारण स्कूल को यहाँ से हटा कर बस्ताकोला धनबाद में व्यवस्थित कर दिया गया। झरिया राज हाई स्कूल जिले का सबसे पुराना उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में से एक है।

झरिया राज हाई स्कूल की स्थापना सन् 1866 में झरिया राजा के जमींदार राजा दुर्गा प्रसाद सिंह ने करवाई थी और इसलिए इसका नाम झरिया राज उच्च विद्यालय रखा गया। जिला के एक गजेटियर में लिखा पाया गया है कि 1930 से 1934 में जब सविनय अवज्ञा आंदोलन चल रहा था उस दौरान झरिया राज स्कूल में विद्यार्थियों की उपस्थिति की संख्या 420 से  घटकर मात्र 89 के करीब रह गई थी, जिस जगह पर ये स्कूल था वहाँ पर एक और हाई स्कूल था जिसका नाम राजा शिव प्रसाद कॉलेज झरिया था इसका विस्थापन बलियापुर के बेलगड़िया में स्थापित कर दिया।

गर बेलगड़िया की बात करे तो ये भारत कोकिंग कोल लिमिटेड (BCCL) के द्वारा बनाया गया वह जगह है जहाँ पर झरिया के कई इलाको से विस्थापित कर यहाँ बसाने का कम चल रहा है लेकिन ये प्रक्रिया बहुत ही धीमी है जिसकी वजह से हर रोज लोगो कई मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। कुछ लोगों को बसाया तो जा चुका है ,जहां जहां से ये लोगों को हटाया गया है वहां से कोयले निकलने काम बड़े जोरो से है लेकिन देखा जाये तो वहां के लोकल लोगो को बहुत ही कम रोजगार दिया गया है और मजदूरी भी इतनी कम है की मुश्किल से घर तो चल जाता है लेकिन बहुत सी ख्वाइशे अधूरी ही रह जाती है।

एक तरह से देखा जाये तो बेलगड़िया अभी  पूरी तरह से तैयार भी नहीं हुआ है अभी भी बहुत से अपार्टमेंट खाली पड़े हुए हैं। काम भी चल रहा है धीरे धीरे लोगों को भी बसाया जा रहा है।

Advertisement
0 0 votes
Article Rating
0 0 votes
Article Rating

Leave a Reply

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments