दुबई के पास इतना पैसा कहाँ से आया | Dubai sheikh | दुबई अमीर कैसे बना? | dubai ka itihas

दुबई का अमीर बनने का इतिहास

दुबई आज कौन नहीं घूरना चाहता है, दुबई (UAE) की रईसी के बारे में भला आज कौन नहीं जानता है। दुबई के लोग आखिर अमीर कैसे बना ये एक राज ही है। लेकिन मैं आज दुबई (UAE) के रईसी और अमीरी के बारे में जानकारी दूँगा कि आखिर दुबई के लोग अमीर कैसे बने आज इससे पर्दा उठाएंगे। आज मैं आपको Dubai (UAE) के secret के बारे बताऊंगा कि आखिर दुबई इतना अमीर कैसे बना? आखिर Dubai sheikh कौन है? वो अपने देश में शासन कैसे करते? दुबई का संविधान कैसा है? क्या दुबई का कानून सख्त है? कानून व्यवस्था आखिर कैसी है?

Dubai Sheikh Mohammed Bin Rashid Al Maktoum photo

आखिर दुबई (Dubai) के पास इतना पैसा कहाँ से आया? दुबई खुद का इतना बड़ा सोने का मार्केट किस प्रकार खड़ा किया क्या वहां रॉकी भाई ने तो गोल्ड supply नहीं किया? दुबई में इतना Opportunity आखिर कहाँ से आया? तो आज इसी सब मुद्दे के बारे में जानने का प्रयास करेंगे। तो आज दुबई की एक एक चीज के बारे विस्तार से जानेंगे।

दुबई के अमीर बनने के पीछे की कहानी?

Advertisement

30 से 35 साल पहले ग़र दुबई की स्थिति देखी जाए तो वहाँ कुछ भी आज जैसा वहाँ नहीं था। दुबई में सिर्फ हर जगह रेत ही रेत था, ना वहां रेत पर मकान और न ही बड़ी बड़ी बिल्डिंगें बनाना संभव था। लेकिन फिर वहाँ के लोगों ने उसी रेत पर इतनी इतनी बड़ी बड़ी बिल्डिंगें बनाई की आज पूरे विश्व में सबसे ज्यादा ऊंची ऊंची बिल्डिंगें दुबई में ही है और साथ में ही इतने महंगे महंगे रूम जिसको सुनकर ही लोग सिर्फ बाहर से ही देखकर मन को दिलासा दे देता है।

और तो और ग़र आप उसमे घूमने के लिए भी जाते हैं तो उसके लिए आपको पैसे लगते हैं वो भी बहुत ज्यादा चार्ज करते हैं।

दुबई के पास किसी भी तरह का पानी का कोई सोर्स तक नहीं था, ना ही कोई साधन, तो आखिर दुबई इतना अमीर कैसे बना? एक बड़ा सवाल है? न दुबई के पास अपना खाना है ना दुबई के पास अपना पानी, ना किसी तरह का मिनरल था, ना उसका अपना खुद का सोना था? लेकिन आज उसके पास दुनिया का सबसे बड़ा सोने का मार्केट है। तो आखिर दुबई के पास ये सब आया कहाँ से, आखिर इतना बड़ा बदलाव कैसे आया आखिर इसके पीछे किसका हाथ है। इसके पीछे संयुक्त अरब अमीरात के शासक दुबई शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम का हाथ है।

शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम बड़ी दूर के सोचते हैं यानी आगे की सोचते हैं और फिर उसे पूरा करने के लिए अपनी पूरी ताकत उसमे झोंक देते हैं। और उसे पूरा करके ही छोड़ते हैं, दुबई (UAE) के शासक उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम का जन्म 15 जुलाई सन्न 1949 को हुआ। शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम एक ऐसा विजनरी लीडर (दूरदर्शी नेता) है, इनके मुकाबले कोई दूसरा नेता किसी देश में है ही नहीं। जो इनके जैसा सोचे और उसे पूरा भी करे यह एक विजनरी लीडर (दूरदर्शी नेता) है।

कुछ लोगों को लगता है कि दुबई तेल बेच के अमीर बना है, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं है। दुबई को तेल से मात्र 1% की रेवेन्यू ही जेनेरेट होती है। तो फिर दुबई के पास इतना पैसा आया कहां से?Sheikh Mohammed Bin Rashid Al Maktoum ने दुबई को पहले तो Tax Free बनाया। जिस वजह से यहाँ बड़े बड़े बिजनेसमैन लोग आकर खुद इन्वेस्ट करते हैं व्यापार करते हैं। इन्होंने ऐसा आईलैंड बनाया जिसके अंदर बहुत सारे घर बनाया जा सके और उसको बेचकर अच्छी खासी रेवेन्यु generate की जिसको वो धीरे धीरे बढाती गई और आज इस मुकाम पर है।

Dubai Sheikh Mohammed Bin Rashid Al Maktoum photo

दुबई (UAE) को Tax Free Zone बनाया

शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम ने दुबई को पूरी तरह से Tax मुक्त (शुल्क माफ़) बना दिया। सबसे पहला तो दुबई एक बहुत बड़ा टूरिस्ट हब भी है जहाँ पर प्रतिदिन लाखो लोग वहां घुमने के लिए आते जाते रहते हैं। दुबई ने ऐसी ऐसी चीज बना दी है कि जिससे लोग आकर्षित होकर दुबई बहुत ही ज्यादा तादात में घूमने के लिए आते रहते हैं। जिससे दुबई को अच्छी खासी रेवेन्यू जनरेट होती है, शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम ने दुबई को फाइनेंशियल हब बना दिया जिससे कि यहां पर बहुत से लोग आकर यहां बड़े ही आसानी से इन्वेस्ट करते हैं। 

शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम दुबई में कुछ भी करेंगे तो या तो नंबर वन पे रहेंगे या फिर टॉप 10 पे रहेंगे। अगर मॉल बनाएंगे तो दुनिया का सबसे बड़ा दुबई मॉल बनाएंगे अगर टावर बनाएंगे तो दुनिया का सबसे बड़ा टावर बनाएगा बुर्ज खलीफा बना दिया। दुबई में उन्होंने एक palm design का आईलैंड बनाया Palm आइलैंड जो खजूर के पत्ते के डिजाइन आकार सा बनाया गया है।

इस leaf डिजाइन के किनारे किनारे बहुत सी बिल्डिंगे बनाई गई है और वहां के लोगो को बेच कर रेवन्यू जेनरेट किया। अंडर वाटर ब्रिज बना दिया, टेनिस खेलने के लिए अंडर वाटर कोर्ट बना दिया।

दुनिया का सबसे बड़ा होटल बनाया दुनिया का सबसे बड़ा लग्जरी 7 Star होटल बनाया। जिसमें आम आदमी का जाना संभव नहीं है, भारत के लोग तो खासकर चप्पल पहन कर बड़े आसानी से घुस जाते हैं लेकिन वहाँ के होटल में आप चप्पल पहनकर नहीं जा सकते हैं Allowed ही नहीं है। उस होटल में जाने से पहले आपको बुकिंग करनी होगी तभी जाकर आपको कहीं वहां रूम मिल पाएगी।

दुबई का कानून व्यवस्था कैसी है?

कुछ लोगो को दुबई के कानून के बारे जानकर हैरानी होगी काश ऐसी वयवस्था सभी देशों में होती। खास करके हमारे देश में जिससे सरकार को भी बहुत फायदा होता, दुबई के अंदर आप अपनी गाड़ी को ज्यादा समय तक गंदा करके नहीं रख सकते, ग़र आप ऐसा करते तो आप पर जुर्माना लगेगा। और तो और आप खुद से गाड़ी भी नहीं धो सकते। उसके लिए अलग से दुबई में गाड़ी धोने के लिए चेंबर बनाया गया है, आप ऐसे ही कहीं भी किसी आम आदमी से गाड़ी धुलवा नही सकते। अगर आपकी गाड़ी गन्दा है तो आपके अकाउंट से ऑटोमेटिक 200 dirham कट जाते हैं।

जो भारतीय रुपये में करीब 4000 रुपये होते हैं, दुबई की कानून व्यवस्था इतनी व्यवस्थित इतनी सख्त है कि शायद ही किसी देश में इतनी सख्त कानून व्यवस्था होगी। वहां की पुलिस सिस्टम एकदम डिजिटल स्मार्ट पुलिस सिस्टम है। जिसमें पुलिस की ज्यादा आवश्यकता नहीं होती है, यानी कि आपको वहाँ सड़क पर कहीं एक भी पुलिस वाला तक नहीं दिखेगा क्योंकि वहाँ पर ना के बराबर दुर्घटना होती है, ना ही वहाँ के लोग नियमो को तोड़ने जबकि पुलिस होती भी नहीं है।

आप इसी से अंदाजा लगा सकते हैं कि दुबई की कानून व्यवस्था कितनी सख्त है अगर आप छोटी सी भी गलती करते हैं तो आपको उसका जुर्माना भरना पड़ता है दुबई की पुलिस दुनिया की सबसे अमीर पुलिस मानी जाती है। दुबई पुलिस की जो कार होती है वो एकदम सी लग्जरी कार होती है जो बाकी देशों की पुलिसों की गाड़ियों से बहुत महंगी होती है।

  • आप वहाँ वो चीज़ नहीं ले जा सकते जो इस्लाम धर्म के बिल्कुल भी खिलाफ या विरुद्ध है और उसको पसंद नहीं है। Drugs, नशीली पदार्थ, शराब, adult books नहीं ले सकते हैं, अगर इस conditions में पकड़े जाते हैं तो आपको मौत की सजा भी सुनाई जा सकती है।
  • अगर दुबई में किसी दूसरे धर्म का प्रचार करते पकड़े जाते हैं तो उसे सख्त सजा दिया जाता है।
  • आप वहाँ किसी भी धर्म की बुराई नहीं कर सकते हैं ऐसा करते पकड़े जाने पर भी सजा का प्रावधान है।
  • फोटो खिंचते समय अगर आपके फोटो में आपके अलावा किसी अंजान इंसान का फोटो आ जाता है तो ये भी कानून के विरुद्ध है इसके लिए भी सजा का प्रावधान है। और आप यहां गवर्नमेंट official बिल्डिंग की भी फोटो नहीं खिंच सकते हैं। आप यहां अनजान लड़की की भी फोटो नहीं खिंच सकते।
  • आप वहाँ इस्लाम धर्म की बेइज्जती नहीं कर सकते हैं ऐसा करते पकड़े जाने पर सख्त सजा का प्रावधान है।
  • दुबई में कोई भी लड़की किसी लड़के पर झूठा रेप केस नहीं कर सकती है, गलत पाने पर लड़की को 3 से 5 साल का सजा का प्रावधान है।
  • सरिया कानून के मुताबिक कोई भी लड़की transparent कपड़े नहीं पहन सकता है और ना ही ज्यादा टाइट कपड़े पहन सकता है।
  • पब्लिक जगहों पर लड़का लड़की एक दूसरे का हाथ पकड़ कर नहीं चल सकते हैं।
  • ग़र कोई कपल कहीं बाहर रोमांस करते पकड़ा जाता है तो उसे मौत की सजा सुनाई जाती है।
  • इस्लामिक देश होने के कारण यहां पर शराब और अन्य नशा पूरी तरह से बैन है, बस कुछ गिनी चुनी authorised होटल को ही बेचने का अधिकार है।
  • पब्लिक जगह पर शराब पीते पकड़े जाने पर जेल की हवा खाना तय है।
  • अगर कोई लड़की की शादी हो जाती है और ग़र किसी दूसरे से affair करता है तो उस स्थिति में मौत की सजा सुनाई जाती है।
  • दुबई में अपना रूम दूसरे के साथ शेयर नहीं कर सकते हैं, ऐसा करते पकड़े जाने पर कड़ी सजा का प्रावधान है। ये पूरी तरह से गैरकानूनी है।
  • रमज़ान के समय कानून और भी सख्त हो जाता है पब्लिक प्लेस पर आप खा नहीं सकते हैं।
  • कोई भी लड़का या लड़की अकेले होटल में नहीं रह सकता है, ये पूरी तरह से गैरकानूनी है। कोई भी लड़का या लड़की तभी रह सकता है जब उसकी उम्र 18 साल से ऊपर हो। और साथ में ही होटल में रुकने के लिए घर के किसी अभिभावक का हस्ताक्षर होना चाहिए।
  • बाएँ हाथ से कुछ भी वहाँ करना बुरा माना जाता है जैसे – बाएं हाथ से खाना खाना, दरवाजा खोलना हाथ मिलाना, आदि अन्य काम किसी को बाएं हाथ से कुछ देना।
  • दुबई में कोई खास address बना ही नहीं है आपको कहीं जाने के लिए खास प्रसिद्ध बिल्डिंग का नाम पता होना चाहिए।
  • ग़र कोई लड़की वाटर पार्क में जाती है तो उसको वहां एक खास किस्म की स्विमिंग costume पहनना पड़ता है।
  • ड्रग्स दुबई में पूरी तरह से बैन है ग़र ड्रग्स के साथ पकड़ा जाता है, सिर्फ तो उसे तुरंत मौत की सजा सुनाई जाती है।
  • वहां पर लोगों से Tax नहीं लिया जाता है, सिर्फ ऑइल कम्पनी, गैस कम्पनी, बड़े बड़े होटलों के मालिकों से Tax वसूला जाता है। शराब पर 50% तक टैक्स लिया जाता है।
  • दुबई में सभी को पूरे कपड़े पहनने पड़ते हैं।
    आप कहीं भी official और पब्लिक place पर धूम्रपान नहीं कर सकते हैं।
  • दुबई में करीब हर जगह पर CCTV कैमरा लगा हुआ है। सोशल नेटवर्किंग साइटों पर वहाँ पर वहाँ की सरकार के बारे में बुराई नहीं कर सकते हैं।
  • ग़र थूकता हुआ कोई पकड़ा जाता है तो उसे तुरन्त पुलिस पकड़ लेती है। और जेल में डाल देती है और सजा और जुर्माना दोनों का प्रावधान है।
  • Public place पर कोई भी किसी को propose नहीं कर सकता है।
  • दुबई में साप्ताहिक छुट्टी शुक्रवार को होती है जबकि हमारे यहां रविवार को।
  • पब्लिक जगह पर आप रोमांस नहीं कर सकते जैसे गले मिलना किस करना आदि।
  • बुर्ज खलीफा में सबसे ज्यादा फ्लैट खरीदने वाला भारत के केरल का ही रहने वाला है जिसने 22 फ्लैट खरीदकर रखा है।
  • आप सड़क पर अपनी गंदी गाड़ी नहीं चला सकते हैं ऐसा पाने पर 200 dirham यानी करीब 4000 रुपये का जुर्माना लगता है 1 दिरहम भारत के 20 रुपये के बराबर होता है।
  • दुबई की जितनी आबादी है उसमे सिर्फ 15% ही दुबई का नागरिक है बाकी तो अन्य देशों का लोग है, जिसमें भारतीय, श्रीलंका, पाकिस्तान, फिलिस्तीन, बांग्लादेश आदि।
  • दुबई में पूरी दुनिया का सबसे बड़ा गार्डन दुबई में ही है जिसका नाम merical गार्डन नाम दिया गया।
  • दुबई में अधिकांश कमाई टूरिस्टों से होती है 2019 के एक रिपोर्ट के मुताबिक।

दुबई जुर्माना किस किस कंडिशन में लेती है?

ग़र आपको किसी भी तरह का कंप्लेंट करना है तो उसके लिए पुलिस के पास नहीं जाना पड़ता है। सारा पुलिस डिजिटल सिस्टम है एक तरह से स्मार्ट पुलिस है, ऑटोमेटिक सिस्टम है। आपको किसी तरह का कंप्लेंट करना है बस एक स्मार्ट मशीन के पास जाइए अपना सारा डिटेल्स फिल करिए और सबमिट कर दीजिए। आपका कंप्लेन दर्ज़ हो गया। दुबई को आधी इनकम तो फाइन और पेनाल्टी से होती रहती है। वहां की सरकार ने इतना ही फाइन और पेनाल्टी हर छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी चीजो पर लगा दिया कि कोई न कोई कानून तोड़ता ही रहता है।

बहुत से लोग डर से कानून तोड़ता ही नहीं है, दुबई में आप ऐसे ही चलते किसी लड़की को छेड़ नही सकते है।नहीं तो आपको जुर्माना और जेल दोनों ही हो सकती है। अगर आपने ट्रैफिक रेड लाईट जंप की तो आपके अकाउंट से ऑटोमेटिक 200 dirham यानि करीब 4000 रुपये कट जाती है।

दुबई की बिल्डिंगें किस पर टिकी है?

जमीन पर चाहे आप घर बनाये मकान बनाये या फिर बड़ी बड़ी इमारते बनाये उसके लिए जमीन की मिटटी में थोड़ा बहुत नमी होना बहुत जरुरी होता है। और साथ मे ही मिट्टी ही होनी चाहिए दुबई में तो सिर्फ रेत ही रेत है जिसपर बिल्डिंगें बनाना असंभव है। लेकिन दुबई ने उसी रेत पर इतनी बड़ी बड़ी बिल्डिंगें बना दी जिसका मुक़ाबला कोई देश नहीं कर पाता। इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि वहाँ के इंजीनियर ने किस प्रकार बड़ी बड़ी इमारतों को खड़ी किया है। इसके लिए वहाँ के इंजीनियर और वहाँ सरकार ने खूब मेहनत की।

बिल्डिंगें बनाने से पहले बहुत रिसर्च किया गया जिसमें पाया गया कि दुबई की ईस्टर्न रेंज की जो पहाड़ियां थी जो V शेप (Shape) में बनी थी। शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम ने दिमाग लगाया और अपने इंजीनियर से पूछा की यह पहाड़ियां V Shape में कैसे बनी? कभी ना कभी यहां से जरुर पानी की धारा गुजरी रही होगी यहां से पानी बहा होगा, तभी तो ये पहाड़ियां V शेप में बनी है।

वहां दुबई में ईस्टर्न रेंज की जो पहाड़ियां थी जो V शेप में बनी थी। यहां से बहुत सालो पहले पानी बहा करती थी एक अनुमान के मुताबिक किसी ने इसके पुराने इतिहास के बारे में कहीं जरूर लिखा होगा।

आज भी दुबई के कई किलोमीटर नीचे पानी मौजूद है। शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम बोरिंग करवाकर अच्छे से मैनेजमेंट करके उसका इस्तेमाल लायक बनाया। दुबई में जीतने भी इमारते हैं सब रेत पर टिकी है और रेत पानी पर टिकी है ग़र रेत को पानी नहीं मिलेगा तो सारी इमारते गिरने लगेगी। एक दिन में करीब 2 लाख गैलन लीटर पानी की आवश्यकता पड़ती है।

Temperate Controlled city क्या है?

दुबई एक ऐसा Temperate Controlled city मॉडल पर काम कर रही है जहां पर सब कुछ होगा, जहाँ Temperate को बड़े आसानी से Control किया जा सकता है। और उसी city में दुबई एक बहुत बड़ा मॉल भी बनाने जा रही जो दुबई मॉल से 4 गुणा बड़ी हो सकती है। Temperate Controlled city हर सुविधा से लेस होने वाली है। जिसमे स्मार्ट ट्रैफिक लाइट, जिसमें सड़क होगी बड़ी बड़ी होटल, और पूरा का पूरा city Air कंडीशनर होने वाली है। दुबई 30 पैसेंजर वाली ऑटोमैटिक गाड़ियाँ बना रही है जो fully ऑटोमैटिक होगी जिसकी बुकिंग ऑनलाइन होगी।

जिसमें 30 लोग आसानी से बैठकर सफर कर सकते हैं, जिसमें आपको खुद से स्टार्टिंग पॉइंट और डेस्टिनेशन पॉइंट चयन करना पड़ता है। उसके बाद वो ऑटोमेटिक आपके डेस्टिनेशन पॉइंट तक पहुंचने के बाद स्वत ही रुक जाएगी।

अधिकांश लोग दुबई ही क्यों जाते हैं काम करने के लिए?

दुबई का तापमान हमेशा लगभग 50 डिग्री के आसपास ही रहती है तो इतनी धूप में लेबर का काम भाल करेगा कौन? दुबई के लोग तो करेंगे नहीं क्योंकि वो इतने गर्मी में काम नहीं कर सकते हैं। उतनी धूप में वहाँ के लोगों से लेबर का काम होने वाला नहीं है। तो इसके लिए काम करने के लिए बहुत सी vacancy निकाली जातीहै, और वहां काम के बदले पैसे भी बहुत ज्यादा मिलते हैं। तो दुबई में जीतने भी लेबर है सब बाहर से आते हैं। चाहे वो electrician हो, Fitter हो, Plumber आदि कोई भी हो, gas plant का काम हो तो इसके लिए बाहर से ही लोग मंगाये जाते हैं,

उसके रहने का खाने का इन्तेजाम भी वहाँ की कम्पनी ही करती है।

शायद ही कभी कभी ऐसा हुआ होगा कि कोई गलती से या फिर गलत एजेंट के माध्यम से कोई लेबर किसी के चंगुल में फंस जाते हैं। ऐसा सब के साथ नहीं होता है, दुबई में करीब 65 प्रतिशत काम करने वाले लोग बाहर के देशों से आते हैं। जिसमे सबसे ज्यादा भारत, श्रीलंका, पाकिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल, फिलीपींस आदि अन्य देशों के लोग शामिल हैं। दुबई में सिर्फ 15 प्रतिशत ही दुबई के नागरिक हैं। दुबई में लगभग 200 के आसपास Nationality के लोग रहते हैं। 

How to make money in Dubai from home?

अगर आपका कोई सगे संबंधी या कोई दोस्त दुबई में रहता है, या फिर कोई काम करने के लिए गया हो तो उससे कह सकते हैं कि वहां गर किसी भी तरह का Dubai में Job, vacancy खाली है, लेबर किसी भी तरह काम करने के लिए आदमी की जरुरत पड़ती है तो आप कंपनी से बात करके उससे सारी जानकरी ले के आप मुझे दे सकते हैं। और कंपनी को बोल सकते हैं की मैं आपको हर तरह का Worker ला के दे सकता हूँ, बस आप काम देने की गारेंटी दे सकते हैं, वर्कर मिल जायेगा।

तो आप ऐसे करके दुबई की कई कंपनियों की Job, vacancy की जानकारी लेकर कहीं से भी घर बैठे दुबई की कंपनियो के लिए Worker Provide कर सकते हैं।

उसके बदले आप लोगों से अच्छी खासी रकम ले सकते हैं, या फिर कंपनी से भी अलग से कुछ डील कर सकते हैं, आजकल तो यही सब ज्यादा चल रहा है। कुछ पढ़े लिखे लोग दुबई के कम्पनियो से संपर्क कर डील करके सारा जानकरी लेकर वहां वर्कर भेज देता है। तो आप भी इस तरह आप घर बैठे दुबई में वर्कर भेज कर बहुत सारे पैसे कमा सकते हैं। बस शुरुआत में थोड़ी बहुत कठिनाईयां आ सकती है उसके बाद तो सब आसान ही होनेवाला है।

7 Emirates of UAE? | UAE की Currency क्या है?

UAE – United Arab Emirates (संयुक्त अरब अमीरात ) 7 Emirates है –

  1. Abu Dhabi
  2. Ajman
  3. Sharjhah
  4. Dubai
  5. Fujairah
  6. Ras Al Khaimash
  7. Umm Al Quwain

बात करे UAE – United Arab Emirates (संयुक्त अरब अमीरात) की Currency तो इसकी Currency UAE Dirham है जो Indian रुपये में 1 Dirham India की 20 रुपये के बराबर होती है।

दुबई के रोचक तथ्य

  • दुबई में इतना सोना है कि वहाँ के लोगों के पास सोने कि लिक्विड पदार्थ से कारों पर परत चढ़ा कर चलाते है। सबसे बड़ा सोने का बाजार दुबई में ही है, और यही से व्यापार भी बड़े पैमाने पर होता है। दुबई में आज कि तारीख मे करीब 300 से ऊपर सोने कि दुकान है,
  • विश्व की सबसे लंबी सोने की चैन दुबई में ही मौजूद है, जिसकी लंबाई 4.2 किलोमीटर है,और जिसका वजन करीब 22 किलो है और इसे करीब 9600 लोगों ने मिलकर खरीदा है।
  • दुबई का मॉल दुनिया का सबसे बड़ा मॉल है यहाँ पर करीब 1200 स्टोर्स हैं, दुबई के मॉल में स्कीईंग का मजा ले सकते हैं।
  • दुबई दुनिया के सबसे ज्यादा sequre शहर है दुनियाभर के ज्यादातर शहरों में अपराध होती रहती है, लेकिन दुबई में ऐसा नहीं है। आपको जानकर हैरत होगी, लेकिन बता दें कि दुबई में अपराध की संख्या जीरो है। इसकी सबसे बड़ी वजह वहां के कड़े कानून व्यवस्था हैं।
0 0 votes
Article Rating
0 0 votes
Article Rating

Leave a Reply

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments